मोदी ने पाकिस्तान उच्चायुक्त के सामने ही पकिस्तान को सुनाई खरी खोटी

0
522

देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हमेशा अपने खुले और बेबाक बयानों के लिए जाने जाते है और आज ऐसा ही कुछ नजारा दिखा विज्ञान भवन में आयोजित इस्लामिक कांफ्रेंस में | यहां पर दोनों नेताओं ने इस्‍लाम पर अपने-अपने विचार रखे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मंच से उन लोगों को कड़ा संदेश दिया जो धर्म के नाम पर आतंकवाद फैलाते हैं। दिलचस्‍प बात है कि इस कार्यक्रम में पाकिस्‍तान के उच्‍चायुक्‍त भी कई इतिहासकारों और राजनयिकों के बीच मौजूद थे।पीएम मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत जॉर्डन के किंग को भारत आने के लिए धन्‍यवाद अदा करके की। पीएम मोदी ने कहा कि उनका वतन और हमारा दोस्त देश जॉर्डन इतिहास की किताबों और धर्म के ग्रंथों में एक अमिट नाम है।

pm modi used strong words against terrorism

ये बोले मोदी –

पाकिस्‍तान के उच्‍चायुक्‍त की मौजूदगी में पीएम मोदी ने आतंकवाद पर भी कड़ा संदेश दिया। पीएम मोदी ने कहा, ‘हमारी विरासत और मूल्य, हमारे मजहबों का पैगाम और उनके उसूल वह ताकत हैं जिनके बल पर हम हिंसा और दहशतगर्दी जैसी चुनौतियों से पार पा सकते हैं। इंसानियत के खिलाफ दरिंदगी का हमला करने वाले शायद यह नहीं समझते कि नुकसान उस मजहब का होता है जिसके लिए खड़े होने का वो दावा करते हैं।’

पीएम मोदी ने कहा कि जॉर्डन एक ऐसी पवित्र भूमि पर आबाद है जहां से खुदा का पैगाम पैगम्बरों और संतों की आवाज बनकर दुनिया भर में गूंजा है। इसके बाद पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया भर के मजहब और मत भारत की मिट्टी में पनपे हैं। यहां की आबोहवा में उन्होंने जिन्दगी पाई, सांस ली है, चाहे वह 2500 साल पहले भगवान बुद्ध हों या पिछली शताब्दी में महात्मा गांधी। अमन और मुहब्बत के पैगाम की खुशबू भारत के चमन से सारी दुनिया में फैली है। पीएम मोदी ने कहा कि भारत की मिट्टी से भारत के प्राचीन दर्शन और सूफियों के प्रेम और मानवतावाद की मिलीजुली परम्परा ने मानवमात्र की मूलभूत एकता का पैगाम दिया है। मानवमात्र के एकात्म की इस भावना ने भारत को ‘वसुधैव कुटुम्बकम्’ का दर्शन दिया है। भारत ने सारी दुनिया को एक परिवार मानकर उसके साथ अपनी पहचान बनाई है। पीएम ने कहा, ‘हर भारतीय को अपनी विविधता की विशेषता पर गर्व है। अपनी विरासत की विविधता पर, और विविधता की विरासत पर। चाहे वह कोई ज़ुबान बोलता हो। चाहे वह मंदिर में दिया जलाता हो या मस्जिद में सज़दा करता हो, चाहे वह चर्च में प्रार्थना करे या गुरुद्वारे में शबद गाए।’

जाहिर है की पकिस्तान की बुरी नीयतो से पूरा विश्व वाकिफ है और आये दिन पकिस्तान की तरफ से सीजफायर का उलंघन होता है जिसमे हमारे देश के वीर जवान शहीद होते है|

Previous articleMP में कांग्रेस की तरफ से ज्योतिरादित्य का सीएम कैंडिडेट बनना लगभग तय, इस नेता ने वापिस खीचे अपने पैर
Next articleपांच दिन की सीबीआई रिमांड पर पी. चिदम्बरम के बेटे कीर्ति, जेल में मनायेगे होली

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here