ग्लोबल थिंकर्स लिस्ट में सुषमा स्वराज सहित इन भारतीयों का नाम आया.

0
827

भारत की विदेश  मंत्री श्री मति सुषमा स्वराज का नाम फॉरेन पॉलिसी मैगजीन ने 2016 की ग्लोबल थिंकर्स लिस्ट में शामिल किया गया हैं.  सुषमा स्वराज ने जिस तरह से ट्विटर के द्वारा लोगों की परेशानियों को समझकर उन्हें जल्दी से जल्दी मदद पहुचाने का जो काम किया है उसके लिए उन्हें ये सम्मान मिला हैं. फॉरेन पॉलिसी मैगजीन ने ट्विटर डिप्लोमेसी के अनोखे ब्रांड को फैशन में लाने के लिए सुषमा स्वराज की तारीफ की है।

मैगजीन ने इस लिस्ट में कुल 100 लीडिंग ग्लोबल थिंकर्स को शामिल किया है. सुषमा का नाम हिलेरी क्लिंटन के साथ डिसीजन मेकर्स कैटेगरी में शामिल किया गया है.  विदेश मंत्री सुषमा के अलावा भारतीय दंपती अनुपमा और विनीत नायर को भी ग्लोबल थिंकर्स लिस्ट में जगह मिली है. ये भारतीय दंपती दूसरों के भले के लिए कार्य करते रहते हैं.

Global Thinkers list

आपको याद दिला दें कि हाल ही मन श्री मति सुषमा स्वराज का किडनी ट्रांसप्लांट का ऑपरेशन सफलतापूर्वक किया गया. काफी दिनों से सुषमा स्वराज का इलाज एम्स में चल रहा था. इस दौरान भी वे ट्विटर पर एक्टिव थी और ट्विटर के जरिये उन्होंने लोगों की मदद करना भी जारी रखा.

इन्होने दी बधाईयाँ

ट्विटर पर बहुत से लोगों ने सुषमा स्वराज को शुभकामानाएं दी. प्रधानमंत्री मोदी ने ने बुधवार को ट्वीट में लिखा, “सुषमा स्वराज फॉरेन पॉलिसी ग्लोबल थिंकर्स लिस्ट 2016 का हिस्सा बनी हैं, हमें अपनी मेहनतकश विदेश मंत्री पर बेहद गर्व है, बधाई।” रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने भी विदेश मंत्री को अपनी और से शुभ सन्देश भेजा प्रभु ने लिखा है, “अद्भुत काम के लिए सम्मानित होने के लिए सुषमा स्वराज जी को बधाइयां, हम सभी को आप पर गर्व है.”

ये भारतीय भी है लिस्ट में

सुषमा स्वराज के साथ ही जगह पाने वाले अन्य भारतीयों में नीतेश कादयान, भारतीय दंपती अनुपमा और विनीत नायर ,निखिल कौशिक और ग्रैविकी लैब्स के अनिरुद्ध शर्मा शामिल हैं.

ऐसे की प्रशंसा

  • मैगजीन ने सुषमा स्वराज के यमन से भारतियों को स्वदेश लाने के विषय में लिखा है कि “सुषमा ने इस काम के लिए ट्विटर का आक्रामक इस्तेमाल कर निकनेम द कॉमन ट्विपल्स लीडर हासिल किया है।”
  • नायर दंपति के विषय में मैगजीन ने लिखा है कि “अपने फाउंडेशन के जरिए HCL टेक्नोलॉजी के पूर्व एग्जीक्युटिव और उनकी पत्नी ग्रामीण भारत में प्राइमरी एजुकेशन सिस्टम में सुधार के लिए मिशन पर हैं। इसके लिए वे सस्ते टेक्नोलॉजी टूल्स का इस्तेमाल कर रहे हैं।”

ग्लोबल थिंकर्स में किसी भारतीय मंत्री का नाम शमिल होने न केवल भारत निवासियों के लिए बल्कि N.R.I. के लिए भी गर्व की बात हैं.

Previous articleइस बिजनेसमैन ने अपनी बेटी की शादी में दिये 90 घर।
Next articleजानिये शनिदेव को क्यूं दिया उनकी पत्नी ने श्राप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here