मायावती ने सपा को बताया गुंडों की सरकार और भाजपा को दलित विरोधी

0
863

आज यूपी चुनाव प्रचार में एक और सपा के उम्मीदवारों को वोट दिलाने के लिए अखिलेश ने चुनावी सभाओं में भाषण देकर ल्प्गो को अपनी सरकार की उपलब्धियों के विषय में बताया वहीँ दुसरी और बसपा प्रमुख ने भी आज बुलंदशहर के देहात कोतवाल माटगढ़ी में चुनावी रैली की. अपनी जनसभा में मायावती ने अपने सभी विरोधियों सपा, कांग्रेस और भाजपा के विषय में बहुत तीखे बाण छोड़े.

Mayawati said SP govt of hooligans and bjp anti-Dalit

ऐसे घेरा विरोधियों को

सपा सरकार को गुंडागर्दी पर घेरते हुए मायावती ने कहा, ‘सपा सरकार में अपराधी और जंगल राज रहा है. महिलाओं के खिलाफ अपराध और गुंडागर्दी की कई घटनाएं हुईं. दादरी में घटना हुई, मथुरा में ज़मीन कब्ज़ा, बुलंदशहर बलात्कार कांड हुआ. सपा की और से मुख्यमंत्री पद के दावेदार अखिलेश यादव विकास के नाम पर वोट मांग रहे हैं इसलिए मायावती यहाँ ये बोलने से नहीं चूकी कि जो भी थोडा बहुत काम सपा के शासन में हुआ हों उसकी असली शुरुआत तो बसपा के समय में हो गयी थी.

भाजपा को घेरते हुए मायावती ने कहा कि बीजेपी दलित विरोधी हैं, इस लिए आप लोगों से अपील है कि अपना वोट सपा-कांग्रेस के गठबंधन को वोट देकर बर्बाद न करें. केंद्र सरकार के नोटबंदी के एलान के विषय में भी बसपा सुप्रीमों ने कहा बीजेपी ने पहले ही अपने करीबियों का काला धन ठिकाने लगवा दिया था. भाजपा सरकार में नोटबंदी के कारण लोग पलायन को मजबूर हुए. प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोलते हुए मायावती ने कहा कि  पीएम मोदी ने पूंजीपतियों को धनवान बनाया है.

 ये किये वादे

मायावती ने उत्तर प्रदेश की वर्तमान सपा की सरकार पर  आरोप लगाया कि प्रदेश में सपा सरकार केवल गुंडे, अपराधियों की सरकार है. साथ ही लोगो से वायदा भी किया कि यदि यूपी उनकी सरकार बनी तो प्रदेश में कानून-व्यवस्था दुरुस्त होगी और पलायन को रोका जाएगा. मुजफ्फरनगर दंगों का जिक्र करते हुए मायावती ने कहा उनकी सरकार बनने [पर ऐसे दंगे नहीं होंगे. बसपा सुप्रीमो ने पश्चिमी उप्र में उच्च न्यायालय पीठ के मुद्दे पर कहा कि प्रदेश में बसपा सरकार बनी तो इसके लिए केन्द्र पर दबाव बनाया जाएगा.

अभी तक आये सभी ओपनियन पोल में बसपा तीसरे नंबर नज़र आयी हैं. प्रदेश में पहले नंबर की पार्टी  बनने की लडाई सपा गठबंधन व भाजपा में ही हैं. इसपर बसपा सुप्रीमो का कहना था कि रिजल्ट आएगा तो पोल सर्वे करने वालों की पोल खुल जाएगी.

Previous articleनए बजट से टैक्स चोरो और भगोड़ो समेत पार्टियों की मिलने वाले चंदे पे भी सरकार की नजर
Next articleयूपी चुनावों के बाद सपा में हो सकता हैं बिखराव. शिवपाल ने की तैयारियां

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here