मऊ में मोदी ने सपा पे साधा निशाना अखिलेश को बताया किसान विरोधी

0
852
Modi said on Mau that akhilesh is anti farmer

यूपी चुनाव के लिए अपने धुंआधार चुनाव प्रचार में जुटे पीएम मोदी ने मऊ में अपने संबोधन के दौरान जमकर अखिलेश सरकार पे निशाना साधा और उसे किसान विरोधी बताया | पीएम ने कहा की समर्थन मूल्य पर फसल खरीदने के लिए भारत सरकार पैसा देती है, लेकिन अखिलेश सरकार ने फसल नहीं खरीदी, इन्होंने सिर्फ 3 फीसदी फसल समर्थन मूल्य पर खरीदा है, इससे बड़ा अन्याय क्या हो सकता है। जो किसान विरोधी हो, जो सिर्फ जाति के नाम पर अपना उल्लू सीधा करे उसे जनता माफ नहीं करेगी।

Modi said on Mau that akhilesh is anti farmer

कारखानों में बिजली नहीं –

कारखानों के लिए बिजली चाहिए होती है, लेकिन यूपी में बिजली नहीं आती, अखिलेशजी कहते हैं कि हम बिजली दे रहे हैं। जहां मतदान हो चुका है वहां बिजली कट कर दी है गई है, यह धोखा है, यह चालाकी है, सरकार जनता जनार्दन के साथ चालाकी करती है। अगर हमसे गलती होती है तो हमें कहना चाहिए और जनता हमें माफ कर देती है।

बाहुबलियों के लिए यहाँ के जेल स्वर्ग –

यहां कोई बाहुबली जेल जाता है तो मुस्कुराते हुए जाता है, यह इसलिए जेल के भीतर से गैंग चलाने, बड़ा सा बड़ा काम कराने के लिए जेल स्वर्ग होता है, बाहर कोई भी कांड हो वह कहता है कि मैं जेल में था, यह बहुत परफेक्ट व्यवस्था है। जो लोग जेल में खाना पहुंचाते हैं, मेरा संदेश पहुंचा देना, जमाना बदल चुका है, वक्त बदल चुका है। 11 मार्च को नतीजे आने के बाद हम सच्चे अर्थ में जेल को जेल बनाकर रखेंगे, फिर देखेंगे कैसे मौज मस्ती करते हो, कैसे खेल खेलते हो, 11 मार्च के बाद सारे खेल बंद हो जाएंगे। कानून व्यवस्था की बात करना और बाहुबलियों को टिकट देते हो, यह नहीं चलेगा।

हिंदुस्तान की जयजयकार –

आज दुनिया के हर कोने में हिंदुस्तान का जय जयकार हो रहा है, क्या कारण है, क्यों जय जयकार हो रहा है, इसकी बड़ी वजह है 30 साल बाद पूर्ण बहुमत की सरकार बनी है, जब मोदी कहीं जाता है तो दुनिया को सवा सौ करोड़ लोग दिखते हैं। अगर आप चाहते हैं कि यूपी की जय जयकार हो तो उत्तर प्रदेश में पूर्ण बहुमत की भाजपा की मजबूत सरकार बनानी होगी।

पीएम ने जनता को भरोसा दिलाया की 11 मार्च को नतीजे आने के बाद वो सबसे पहले किसानो के कर्ज माफ़ करेगे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here