बेटे के लिए फिर पिघलें नेताजी. कल से करेंगे सपा कांग्रेस के लिए प्रचार

0
932
mulayam will campaign for sp and congress from tomorrow

मुलायम का दिल अपने बेटे के पसीजता दिख रहा हैं. अब से पहले मुलायम सिंह सपा कांग्रेस गठबंधन को नकार चुके हैं. लेकिन अब मुलायम ने कहा हैं की  वह कल से समाजवादी पार्टी और कांग्रेस गठबंधन के लिए प्रचार शुरू कर देंगे. साथ ही मुलायम ने अखिलेश के प्रदेश का अगला मुख्यमंत्री बनने का दावा भी किया. मुलायम सिंह के इस ब्यान से सपा कार्यकर्ताओं में उत्साह हैं. इस ब्यान को वर्तमान चुनावी परिद्रश्य में बहुत महतवपूर्ण माना जा रहा हैं.

mulayam will campaign for sp and congress from tomorrow

शिवपाल की नाराजगी पर ये कहा

मुलायम सिंह ने शिवपाल के अलग पार्टी बनाने के बयान पर भी बात की. नेताजी ने कहा कि  शिवपाल यादव की नाराजगी की खबरों पर उन्होंने कहा “शिवपाल नाराज नहीं है। कौन है नाराज। कोई भी नहीं है।” उन्होंने अमर सिंह की नाराजगी की खबरों को भी सिरे से नकार दिया। मुलायम सिंह ने कहा, “अमर सिंह नाराज नहीं हैं। कोई मतभेद नहीं है। अखिलेश ही होगा अगला सीएम और कौन होगा?” शिवपाल यादव के सवाल पर मुलायम सिंह बोले मुझसे पूछे बिना वह कैसे अलग पार्टी बना सकते हैं अभी उनसे बात करूंगा, गुस्से में बोल रहे होंगे.

अगर अखिलेश ने लूटा तो जनता देगी सजा

विपक्षी अखिलेश को ये कहकर घेरते हैं कि अखिलेश ने यूपी की जनता को लूटा हैं. इस बाबत सवाल किये जाने पर नेताजिने कहा कि अगर अखिलेश ने जनता को लूटा हैं तो जनता सजा देगी और अगर प्रदेश का विकास किया हैं तो जनता आशीर्वाद देगी.

कल से करेंगे प्रचार

सपा कांग्रेस गठबंधन के प्रचार के विषय में मुलायम ने पत्रकारों को बताया कि वो कल से प्रचार के कार्यकर्मों में हिस्सा लेंगे. साथ ही नेताजी ने ये भी कहा कि वो कांग्रेस का भी प्रचार करेंगे. इस बारें में नेताजी बोले कि अब गठबंधन कांग्रेस से किया है तो उनका भी प्रचार करूंगा.

कांग्रेस का भी करेंगे प्रचार

केवल सपा ही नहीं बल्कि कांग्रेस की और से भी ये बातें उठ रही थी कि नेताजी को अब सपा कांग्रेस गठबंधन के लिए प्रचार करना शुरू करना चाहिए. लेकिन दोनों दलों की उम्मीदों को तब झटका लगा जब मिलें सिंह ने सपा कांग्रेस गठबंधन के प्रचार के लिए दो टूक मना कर दिया.

उस समय सपा और कांग्रेस के नेताओं के बीच असमंजस की स्थिति बन गयी थी जब नेताजी ने अपने कार्यकर्ताओं से कांग्रेस के उम्मीदवारों के खिलाफ सपा के उम्मीदवारों को चुनाव लड़ने को कहा था. नेताजी के इस नये रूप से दोनों ही पर्त्यों के नेताओं ने अब चैन की साँस ली होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here