निष्कासन के बाद अखिलेश और रामगोपाल को नोटिस , एक जनवरी को आपातकालीन बैठक

0
1265
NOTICE TO Ram Gopal Yadav AND AKHILESH after expulsion

यूपी चुनाव जो की अखिलेश यादव के पार्टी से न्काले जाने के बाद एक निर्णायक मोड़ पे आके खड़ा हो गया हैं और हर किसी की नजर हैं क अब जीत की दावेदार मानी जाने वाल सपा का अगला कदम क्या होगा और आखिर कौन बनेगा यूपी का सीएम | इन्ही सब बातों का निपटारा करने के लिए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने आपातकालीन बैठक बुलाई हैं जिसमे अखिलेश और रामगोपाल भी होंगे |

NOTICE TO Ram Gopal Yadav AND AKHILESH after expulsion

अखिललेश से माँगा जवाब –

समाजवादी पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष मुलायम सिंह यादव ने मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव को नोटिस जारी करते पूछा कि वो कारण बताएं कि उन्‍होंने अलग से उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2017 के लिए अलग से प्रत्‍याशियों की लिस्‍ट क्‍यों जारी की है। इसके अलावा समाजवादी पार्टी के राष्‍ट्रीय महासचिव प्रो.रामगोपाल यादव को भी नोटिस जारी करके मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव के पक्ष में बयानबाजी करने के बारे में स्‍पष्‍टीकरण मांगा गया है। आपको बताते चलें कि टिकट बंटवारें को लेकर मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव और सपा उत्‍तर प्रदेश के अध्‍यक्ष शिवपाल सिंह यादव के बीच तकरार चल रही है। गुरुवार को अखिलेश यादव ने 235 प्रत्‍याशियों की अलग से लिस्‍ट जारी करके उत्‍तर प्रदेश की राजनीति में भूचाल सा ला दिया जबकि समाजवादी पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष मुलायम सिंह यादव पहले ही 325 प्रत्‍याशियों की लिस्ट जारी कर चुके थे। अखिलेश यादव के लिस्‍ट जारी करने के अगले ही दिन शिवपाल सिंह यादव ने 78 लोगों की अंतिम लिस्‍ट भी जारी कर दी है। इसके बाद समाजवादी पार्टी की तरफ से जारी किए गए कुल प्रत्‍याशियों की संख्‍या 403 हो गई है।
रामगोपाल यादव से भी जवाब माँगा –

राज्‍यसभा सांसद और समाजवादी पार्टी के महासचिव प्रो.रामगोपाल यादव भी खुल कर मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव के पक्ष में आ चुके हैं। उन्‍होंने यह तक कह दिया है कि अखिलेश की तरफ से जारी की गई लिस्‍ट ही अंतिम लिस्‍ट होगी। इसके लिए मुलायम सिंह यादव ने रामगोपाल से जवाब माँगा हैं की आपने ऐसा क्यों कहा और क्यों ना आपके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाए ?

अब देखना होगा की आखिर एक जंवाई को होने वाली बैठक में सपा का अगला निर्णायक मोड़ क्या होता हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here