बीजेपी के आते ही त्रिपुरा में गिराई गई व्लादिमीर लेनिन की प्रतिमा, कई नेताओं के आये विवादित बयान

0
681

बीजेपी को त्रिपुरा में मिली जीत का असर अब दिखने लगा है और बदलाव की शुरुआत हो चुकी है | ऐसा इसीलिए कहा जा रहा है की बीजेपी के मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण से पहले ही कार्यकर्ताओ ने अपने मन की करनी शुरू कर दी है | प्राप्त जानकारी के मुताबिक बीजेपी समर्थकों ने साउथ त्रिपुरा डिस्ट्रिक्ट के बेलोनिया सबडिविजन में बुलडोज़र की मदद से रूसी क्रांति के नायक व्लादिमीर लेनिन की मूर्ति को ढहा दिया है, जिसके बाद वहां तनाव की स्थिति पैदा हो गई है क्योंकि साम्यवादी विचारधारा के हीरो लेनिन की मूर्ति तोड़े जाने के बाद से वामपंथी दल  काफी नाराज है और उसने इसके लिए बीजेपी पर संगीन आरोप लगाए हैं।

BJP's destroyed 25-year-old left fort
कई जगह से मारपीट और तोड़फोड़ की खबरे –

इस घटना के बाद से राज्य से कई जगहों पर तोड़फोड़ और मारपीट की खबर है, सीपीआई(एम) ने इन सारी बातों के लिए भाजपा को जमकर कोसते हुए आरोप लगाया है कि भाजपा जानबूझकर हिंसा की राजनीति कर रही है, बीजेपी-आइपीएफटी कार्यकर्ता जानबूझकर वामपंथी स्मारकों को तोड़ रहे हैं। इसी बीच व्लादिमीर लेनिन की मूर्ति ढहाते वक्त लोगों का एक वीडियो भी सामने आया है। एनएनआई के इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि जो लोग मूर्ति को ढहा रहे हैं, वो लोग ‘भारत माता की जय’ के नारे लगा रहे हैं। ये घटना सोमवार दोपहर करीब 3.30 बजे के आस-पास की बताई जा रही है। सीपीआई(एम) ने ये भी कहा है कि बीजेपी कार्यकर्ताओं ने बुलडोजर के ड्राइवर को शराब पिलाकर उससे नशे में ये पाप करवाया है। फिलहाल पुलिस ने ड्राइवर को अरेस्ट कर लिया है और बुलडोजर को भी कब्जे में ले लिया है।

PM Modi gave emotional statement after historic victory in North-East

ये बोले त्रिपुरा के बीजेपी प्रवक्ता –

त्रिपुरा बीजेपी प्रवक्ता ने कहा है कि क्षेत्र के लोग लंबे समय से लेनिन की बजाय स्वामी विवेकानंद, सरदार वल्लभभाई पटेल और मदर टेरेसा जैसे राष्ट्रीय नायकों की मूर्तियों को खड़ा करना चाहते थे। बेलोनिया में जो भी हुआ वह सार्वजनिक रोष का नतीजा है। हालांकि बीजेपी ने लेनिन की प्रतिमा गिराने में कार्यकर्ताओं की भूमिको होने से इंकार किया है।

तो वही सुब्रमण्यम स्वामी ने लेनिन की मूर्ति तोड़े जाने की घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘लेनिन तो विदेशी है, एक प्रकार से आतंकवादी है, ऐसे व्यक्ति की हमारे देश में मूर्ति क्यों? वो मूर्ति कम्युनिस्ट पार्टी के हेड क्वार्टर के अंदर रख सकते हैं और पूजा करें।’ आपको बता दें कि लेनिन की मूर्ति तोड़े जाने की घटना का वीडियो भी वायरल हो रहा है, जिसमें भाजपा की टोपी लगाए हुए कुछ लोग भारत माता की जय के नारे लगाकर मूर्ति तुड़वा रहे हैं।

आपको बता दे की लेनिन की मूर्ती तोड़े जाने से सूबे में भारी तनाव का माहौल पैदा हो गया है जिसके लिए भरी संख्या में पुलिस वालो को तैनात किया गया है |

देखे ये विडियो –

Previous article2019 में कांग्रेस सरकार आने पर अंधप्रदेश को मिलेगा विशेष राज्य का दर्जा – राहुल गाँधी
Next articleशाह और राजनाथ की मौजूदगी में कोनराड संगमा ने मेघालय मुख्यमंत्री की शपथ, त्रिपुरा में ये होगे सीएम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here