देश जिन मुद्दों में जवाब चाहता है, मोदी उसमे चुप रहते है: राहुल गाँधी

    0
    1317

    नई दिल्ली: पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस ने आज भारत बंद बुलाया। कांग्रेस के भारत बंद को 21 राजनीतिक दलों ने अपना समर्थन दिया है। लगातार बढ़ रही पेट्रोल और डीजल की कीमतों के खिलाफ दिल्ली के रामलीला मैदान में बड़ी संख्या में कांग्रेस नेता जमा हुए जिनमें यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी, शरद पवार, राहुल गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी मौजूद रहे। इस दौरान राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोला है|

     

    मोदी को घेरा- राहुल गांधी ने रामलीला मैदान से मोदी सरकार के खिलाफ जमकर हमला बोला। राहुल गांधी ने कहा कि जनता ने पीएम मोदी पर 2014 में भरोसा किया। राहुल ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने 2014 में बड़े-बड़े वादे किए थे लेकिन उन वादों को उन्होंने पूरा नहीं किया। आज पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों पर पीएम मोदी चुप हैं। राहुल ने कहा कि बढ़ती महंगाई, किसानों की आत्महत्या, रोजगार के मुद्दे पर, पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों पर वो चुप हैं, देश उनका जवाब सुनना चाहता है लेकिन पीएम मोदी कुछ नहीं बोलते हैं। जहां भी जाते हैं वो बांटने की बात करते हैं और जाति-धर्म के नाम पर लोगों को लड़ाने की बात करते हैं।

    क्यों कुछ नहीं बोलते मोदी– मोदी सरकार पर बड़ा हमला बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा कि ये सरकार उद्योगपतियों की सरकार है। राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी केवल भाषण देते हैं। राहुल गांधी ने एक बार फिर राफेल के मुद्दे पर हमला बोलते हुए कहा कि देश की जनता का पैसा अगर चोरी हुआ है तो इसके लिए पीएम मोदी जिम्मेदार हैं। राहुल गांधी ने नोटबंदी को लेकर भी हमला बोला और कहा कि पीएम मोदी आज तक नोटबंदी का फायदा नहीं गिना पाए। जीएसटी को लेकर उन्होंने कहा कि इस कारण कारोबार पर बुरा प्रभाव पड़ा है।

    राहुल गांधी ने कहा कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर पीएम मोदी की बात देश सुनना चाहता है लेकिन वो चुप हैं। उन्होंने कहा कि पीएम स्वच्छ भारत की बात करते हैं और कहते हैं कि लाखोंं शौचालय बनवा दिए गए, लेकिन उनमें पानी ही नहीं होता है। राहुल गांधी ने कहा कि 2019 में मोदी सरकार को सभी विपक्षी दल मिलकर हराने का काम करेंगे।

    आपको बता की लगातार बढ़ रही पेट्रोल और डीजल की कीमतों को रोकने में सरकार असफल है और उसके पास कोई भी प्रभावी तरीका नहीं है| बीते दिन भी डीजल और पेट्रोल की कीमते बढ़ गई जिस वजह से आम जनता की जेब में और अधिक बोझ बढ़ गया| इस बढती कीमतों से जनता का आक्रोश अब सरकार के प्रति झलकने लगा है और जनता भी सडको में उतरने लगी है|

     

    Previous articleसवर्ण भारत बंद से पहले कांग्रेस का मास्टरस्ट्रोक, ब्राह्मण समाज को दस प्रतिशत आरक्षण की घोषणा
    Next articleकमाई के मामले में अवेंजर्स इन्फिनिटी वॉर से पिट गयी बॉलीवुड की ये मशहूर फिल्में

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here