समीर खान की किताब

0
2169

जिन्दगी में कुछ पल चाहिए होते हैं की आप जो हैं खुद को उससे अलग महसूस करे और किसी ऐसी चीज से जुड़े जो आपके लिए नयी और सुखद तो जाहिर हैं ऐसा आपको सिर्फ पुस्तकों में ही मिल सकता हैं जहाँ पे आपको शांति और सांत्वना दोनों मिलती हैं | किताब में अंकित उन शब्दों में इतनी शक्ति होती होती हैं की वो आपके अंतर्मन को झकझोर देती हैं और आपके अंदर की बाते बाहर खीच लाती हैं , शायद इसीलिए हर एक इंसान को इन किताबो से जुड़ जाना आनंदित करता हैं | ऐसी ही एक किताब हैं युवा लेखक समीर खान की |

एक उभरते हुए लेखक समीर खान का मानना हैं की कलम में हर स्थिति को बदलने की शक्ति होती हैं चाहे वह मानसिक हो या फिर सामाजिक | एक लेखक की किताब जिसने इसमें कम शब्दों में शायद बहुत कुछ समेत के रख दिया हैं | एक किताब जो शायद आपको अंदर तक झकझोर के रख दे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here