श्री देवी की मौत के 12 दिन बाद खुल गया उनकी मौत के पीछे का राज

0
1817
12 days after the death of Shri Devi, the secret behind his death revealed

24 फरवरी की आधी रात को बॉलीवुड की मशहूर अदाकारा की मौत की खबर ने हर किसी को अंदर ही अंदर झकझोर दिया। उनकी मौत की खबर को सुनने के बाद देश का हर एक व्यक्ति उनके आक्समिक मौत से काफी ज्यादा आहत हुआ। बोनी कपूर के मुताबिक उनकी मौत उस वक़्त हुई जब वह दुबई में अपने भांजे की शादी समारोह में शिरकत करने सपरिवार गयी थी। शादी में शिरकत करने के बाद जब उनका सारा परिवार दुबई से वापस आ गया तब भी श्री देवी दुबई में ही बनी हुई थी। शादी समारोह के कुछ दिन बाद उनकी लाश उनके बाथरूम से बरामद की गयी। उस वक़्त उनके मौत के पीछे की वजह कार्डियक अरेस्ट को बताया जा रहा था। परंतु जब जाँच धीरे धीरे आगे बढ़ी तो उनकी मौत की यह गुत्थी उलझती ही चली गयी। उनकी मौत के बाद उनसे जुड़े एक के बाद एक खुलासे होते जा रहे है। आज इसी संदर्भ में एक और बेहद ही चौकाने वाला खुलासा उनकी मौत के 12 दिन बाद श्री देवी के चाचा की और से किये गए है। जिसके बारे में सुनकर हर कोई एक बार फिर से हैरान रह गया है।

आपको बता दें कि श्री देवी की मौत के 12 दिन गुजर जाने के बाद उनके चाचा वेणुगोपाल रेड्डी ने हाल के ही दिनों में ड्रीम न्यूज़ को दिए गए इंटरव्यू के दौरान श्री देवी की मौत से जुड़े बेहद ही चौकाने वाले खुलासे किए है। इंटरव्यू के दौरान श्री देवी की मौत से जुड़े खुलासे करते वक़्त उन्होंने ऐसा बताया कि ” उनकी बेटी (श्रीदेवी) की जिंदगी में बहुत ही ज्यादा दर्द मौजूद था। उन सभी दर्द के पीछे की वजह कोई और नही बल्कि उनके ही पति बोनी कपूर थे। उनके मुताबिक श्री देवी की माँ बोनी कपूर को कभी भी पसंद नही करती थी। वह हमेशा से ही बोनी कपूर के खिलाफ थी और वह ऐसा चाहती थी की उनकी बेटी की शादी बोनी कपूर के साथ कभी भी न हो “

इसी मुद्दे के ऊपर आगे बोलते हुए उनके चाचा ने इस बात का जिक्र किया कि जब कभी भी बोनी कपूर श्री देवी के घर जाया करते थे। तो वहां मौजूद उनकी माँ उनके साथ अक्सर बेहद ही बुरा वर्ताव किया करती थी। माँ के लाख मना करने के बावजूद श्री देवी अपनी जिद पर अड़ी हुई थी। जिद पर अड़ जाने की वजह से उनकी माँ को विवश होकर शादी को मंजूरी देनी पड़ी। शादी के वक़्त तक उनकी माँ इस शादी के खिलाफ ही थी।

वेणुगोपाल रेड्डी की माने तो श्री देवी अपने दुःखो को इस दुनिया में छोड़ने के वजाय अपने साथ लेकर चली गयी है। ऐसा इसलिए कि “बोनी कपूर एक के बाद एक फिल्मे बनाने के चक्कर में अपना एक एक पैसा लुटा चुके थी। फिल्मो में सारा पैसा लुटाने के बाद उनकी कई सारी फिल्में ऐसी थी जो की कभी इस पर्दे पर आयी ही नहीं। इस वजह से उनका काफी ज्यादा पैसा बर्बाद हो गया जिसकी भरपाई के लिए श्री देवी ने अपनी संपत्ति का कुछ हिस्सा बेच डाला। अपनी संपत्ति बेचने का मलाल उन्हें हर वक़्त रहा यही वजह थी की वह इस दर्द के साथ इस दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह गयी।

जब इंटरव्यू के दौरान वेणुगोपाल से इस बात को पूछा गया कि क्या श्री देवी आर्थिक तंगी के दौर से गुजर रही थी..? तो इस सवाल का जवाब में उनकी ओर से कहा गया कि ” वह अपनी जिंदगी से बहुत ही ज्यादा दुखी थी। दुनिया वालों के सामने तो वह अक्सर मुस्कुराती हुई नज़र आती थी पर वह अंदर ही अंदर घुट घुट कर जिंदगी जीने को मजबूर थी। पैसे की कमी की वजह से जब दोनों ने अपनी काफी संपत्ति बेच दिया तब श्री देवी को फिर से एक बार फ़िल्मी पर्दे पर आने को मजबूर होना पड़ा।

देखिये   वीडियो-

https://youtu.be/ZJuy6v5sq18

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here