आगुस्ता हेलिकॉप्टर घोटाला:तीन सालों में हुई पहली गिरफ्तारी

0
776

आगुस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर घोटाला मामले में सीबीआई भारतीय वायुसेना के पूर्व प्रमुख एस पी त्यागी, उनके भाई संजीव उर्फ जूली त्यागी और एक वकील गौतम खेतान को गिरफ्तार चुकी है. ये मामला  12 वीवीआईपी हेलिकॉप्टरों की खरीद में 450 करोड़ रुपये की घूसखोरी का है. गिरफ्तार किए गए पूर्व सेना प्रमुख एसपी त्यागी व दो अन्य लोगों को  दिल्ली स्थित पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया.

Agusta helicopter scam

क्या है मामला

करीब तीन साल पहले ये मामला सामने आया था. इससे जुडी जानकारी सबसे पहले इटली में में सार्वजनिक हुईं थी.सरकारी वकीलों ने अगस्ता की मुख्य कंपनी फिनमेक्कैनिका के चीफ के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे. आगुस्ता वेस्टलैंड कंपनी को भारत से हेलिकॉप्टर खरीद का सौदा मिले, इसके लिए जिन तीन लोगों ने दलाली की थी, उसमें दो स्विस नागरिक व एक ब्रिटिश नागरिक था. ये सारा पैसा हवाला के जरिये भारत आया था.

ये हैं आरोपी

इस मामले में सीबीआई ने एसपी त्यागी, उनके भाई संजीव त्यागी और  चंडीगढ़ में रहने वाले वकील गौतम खेतान को पूछताछ के लिए बुलाया था. जहाँ ये पूछताछ 4 घंटे चली. ओए यहीं से इन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. एसपी त्यागी वायु सेना से 2007 में रिटायर हुए थे.

ये है आरोप

एसपी त्यागी जो कि उस समय एयरफोर्स चीफ थे. उन पर आरोप है कि उन्होंने  वीवीआईपी हेलिकॉप्टरों की ऑपरेशनल क्षमता की मानक ऊंचाई 6 हजार मीटर से घटाकर 4500 मीटर करने की अनुमति दी. इससे अगुस्टा वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलिकॉप्टर सौदे की दौड़ में शामिल हो सकी और इससे एसपी त्यागी को कंपनी ने फायदा पहुचाया . हालाँकि एसपी त्यागी ने हर बार ऐसे अभी आरोपों को ख़ारिज किया है

Previous articleअपेंडिक्स का इलाज
Next articleअमेरिकियों की नौकरी बाहरी लोगों को नहीं लेने दूंगा – डोनाल्ड ट्रंप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here