अखिलेश यादव ने फिर बोला भाजपा पर हमला. जल्द कर सकते हैं प्रेस कांफ्रेंस

0
1113
Akhilesh Yadav again attacked BJP may hold Press Conference

सातवें चरण के चुनाव के लिए सभी जगह चुनाव प्रचार खत्म हो चूका हैं. लेकिन अखिलेश यादव आज भी चुनावे जनसभा को संबोदित कर रहे हैं. अखिलेश यादव आह मंगलवार के दिन अम्बेडकरनगर में चुनावी रैली को संबोदित कर रहे हैं. अम्बेडकरनगर की आलापुर जिलें की विधानसभा सीट पर चुनाव प्रचार आज शाम थम जायेगा. यहाँ मतदान 9 मार्च हो होना हैं.

आज इस विधानसभा चुनावो की अंतिम चुनावी रैली में अखिलेश यादव ने मौके जा फायदा उठाते हुए भाजपा पर जमकर हमला बोला. अखिलेश ने कहा, ‘’पीएम मोदी कहते हैं कि हमने बिजली में भी भेदभाव किया है बल्कि हमने तो रमज़ान पर उतनी बिजली नहीं दी जितनी दिवाली पर दी है. पीएम मोदी ने अब बिजली को हिंदू-मुस्लिम में बांट दिया है.’’ अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश में हुए विकास का जिक्र करते हुए कहा कि ‘’हमने पूरे यूपी में सड़कों का निर्माण कराया है. अगर पीएम उन सड़कों पर चल लें तो वह समाजवादी पार्टी को ही वोट देंगे.’’ किसानों के कर्ज माफी पर अखिलेश ने कहा, ‘’बीजेपी की सरकार ने मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में किसी भी किसान का कर्ज माफ नहीं किया है, तो ये सरकार यूपी में किसी किसान का कर्ज क्या माफ करेगी.’’

Akhilesh Yadav again attacked BJP may hold Press Conference

वाराणसी में प्रधानमंत्री मोदी द्वारा किये गए रोड शो पर अखिलेश यादव ने कहा कि पीएम मोदी सिर्फ रेडियो पर मन की बात करते हैं, लेकिन वाराणसी की जनता को पीएम मोदी की बात को बिलकुल समझ नहीं पाई. अखिलेश ने सपा कांग्रेस गठबंधन के जीतने की भविष्यवाणी करते हुए कहा कि  सपा-कांग्रेस गठबंधन छह चरणों के चुनाव में आगे रहा है.

ऐसी भी खबरें आ रहे हैं कि अखिलेश यादव जल्द ही प्रेस कांफ्रेंस भी करने वाले हैं. अभी तक प्राप्त जानकारियों के अनुसार ये प्रेस कांफ्रेंस रेप केस में आरोपी फरार मंत्री गायत्री प्रजापति को लेकर हो सकती हैं. आपको बता दें कि गायत्री रेप केस के साथ ही अधिल सम्पति के मामले में भी सुर्खियाँ बटोर रहे हैं.

गायत्री प्रजापति को लेकर अखिलेश की काफी किरकिरी हो चुकी हैं. भाजपा ने अखिलेश पर गायत्री को बचाने के ‌आरोप लगाए हैं, जिस पर अखिलेश ने पिछली  प्रेस कांफ्रेंस में जवाब दिया था कि जिन्हें भी लगता है कि गायत्री मेरे घर में छिपा है वो कैमरा लेकर चलें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here