तो इतने रूपए खर्च होते है एक 500 और 2000 के नए नोट प्रिंट करने में

0
879
cost of printing new notes of 500 and 2000

सराकर ने नोट्बंदी का एलान किया जिसके कारण रिज़र्व बैंक नए नोट छापने पड़ रहे हैं और ये काम बहुत तेजी से चल रहा हैं | लेकिन क्या आपको पता है की एक 500 का नया नोट और 2000 का नया नोट छापने में रिज़र्व बैंक को कितना खर्चा आता हैं ? अगर नहीं तो हम आपको बता देते हैं |

cost of printing new notes of 500 and 2000

भारतीय रिजर्व बैंक नोट मुद्रा प्राइवेट लिमिटेड की दी गई जानकारी के अनुसार 500 रुपये का एक नया नोट छापने में 3.09 रूपए और 2000 के नोट में 3.54 रूपए खर्च होते है | इस हिसाब से 500 रुपये के प्रति एक हजार नोट छापने में 3090 रूपए और 2000 के नोट में 3540 रूपए खर्च आ रहा हैं , यह जानकारी बीआरबीएनएमपीएल ने एक आरटीआई के तहत पूछे गए सवाल में दी |

पुराने नोट छापने में –

आपको बता दे की रिज़र्व बैंक को पुराने नोट छापने में भी इतना ही खर्चा आता था यानी की एक 500 का पुराना नोट छापने में 3.09 रुपये वही 1000 रुपये के पुराने नोट में 3.54 रुपये प्रति नोट जो की आज 2000 के नोट में बदल गया है |

भारतीय रिज़र्व बैंक ने बताया की वह जल्दी ही 500 के ऐसे नए नोट ला रही है जिसमे नोट के दोनों नंबर पैनल पे “ आर ’ लिखा होगा और गवर्नर उर्जित पटेल के दस्तखत भी होंगे | इसके साथ रिज़र्व बैंक ने जल्दी ही 50 के नए नोट भी जारी करने संकेत भी दिए हैं |

आपको बता दे 8 नवम्बर को मोदी सरकार ने पुराने 500 और 1000 के नोटों को आम प्रचलन से हटा दिया था जिसके चलते रिज़र्व बैंक को नए नोट छापने पड़ रहे हैं और ये काम बहुत ही तेजी के साथ किया जा रहा है जिससे आमजन में चल रही नोट की समस्या को जल्दी से जल्दी ख़तम किया जा सके | नए नोटों की अधिक खपत के कारण सरकार कैशलेस ट्रांजेक्सन के ऊपर जोर दे रही है जो की मोदी सरकार द्वारा चलाई गई डिजिटल इंडिया का हस्सा हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here