करणी सेना ने पद्मावती का नाम बदलने की माग उठायी

0
845
Karni Sena raised demand to rename Padmavati

संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती बनने से पहले ही विवादों में आ गई हैं और अभी हाल ही में संजय पर कथित रूप से हमला किया गया जो की करणी सेना की तरफ से था , और अब करणी सेना ने फिल्म का नाम बदलने की माग की हैं | फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली प्रोडेक्शन कम्पनी की मुख्य कार्यकारी अधिकारी शोभा संत ने फिल्म पद्मावती की पटकथा में अलाउद्दीन खिलजी और रानी पद्मावती के प्रेम सम्बधों या सपने में प्रेम के दृश्य दिखाया जाने के आरोपों से सिरे से खारिज कर दिया। यहां आयोजित संवाददाता सम्मेलन में करणी सेना के पदाधिकारी महिपाल सिंह ने फिल्म का नाम बदलने की नई शर्त शोभा संत के समक्ष रखी है।

Karni Sena raised demand to rename Padmavati

संत स्वंय संवाददाता सम्मेलन में मौजूद थी और उन्होंने कहा कि करणी सेना और फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली के प्रतिनिधियों की कई दौर की बातचीत के बाद हमने लिखित में करणी सेना को दिया है कि फिल्म पद्मावती में अलाउद्दीन खिलजी और रानी पद्मावती के बीच किसी प्रकार के प्रेम प्रसंग और सपने में दोनों के बीच प्रेम सपने को लेकर किसी तरह के दृश्य नहीं थे। उन्होंने कहा कि गलत फहमी में यह सब कुछ हुआ है। संत ने कहा कि दोनों पक्ष में हुई बातचीत में करणी सेना और राजपूत समाज के प्रतिनिधियों के बीच हुई बातचीत में फिल्म के प्रदर्शन से पूर्व एक स्क्रीनिंग कमेटी गठित कर फिल्म को हरी झंडी देने के बाद ही फिल्म को प्रदर्शित करने की थी लेकिन इस मांग पर निर्णय स्वयं संजय लीला भंसाली लेंगे। सिंह ने फिल्म कम्पनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के समक्ष फिल्म पद्मावती का नाम बदलने की नई मांग रखी जिस पर मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने इसका निर्णय फिल्म निर्माता से बातचीत करने के बाद ही करने की जानकारी दी। करणी सेना के संरक्षक लोकेन्द्र सिंह कालवी ने कल ही पद्मावती फिल्म में दिखाये जाने वाले दृश्यों को लेकर जारी विरोध में लिखित समझौता होने के संकेत दे दिये थे।

गौरतलब है कि फिल्म पद्मावती की जयगढ़ किले में गत दिनों चल रहीं शूटिंग के दौरान करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने फिल्म में इतिहास के तथ्यों को तोड़ मरोड़ कर पेश करने का विरोध करते हुए फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली के साथ दुर्व्यवहार किया और शूटिंग उपकरणों को क्षति पहुंचायी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here