यूपी चुनाव : बीजेपी की इस सीट पर एक से अधिक उम्मीदवार , उलझन में पार्टी

0
1121

कुशीनगर में इन दिनों भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारी अपने ही लोगों से जूझ रहे हैं। कुशीनगर के रामकोला सीट से पार्टी के लगभग एक दर्जन से ज्यादा कार्यकर्ताओं ने दावेदारी कर पार्टी को संशय में डाल दिया है।

more than one BJP candidate for this seat

क्या हैं इस सीट की राजनीति –

बताते चलें कि दावेदारों में कई पहले पार्टी में बड़ी भूमिका निभा चुके है। फिलहाल मामले को कैसे सुलझाया जाय, इसको लेकर पार्टी के पदाधिकारी तरकीबें निकालने में जुटे हैं।बताते चलें कि वर्तमान में इस विधानसभा सीट पर सपा का कब्जा है। यह विधानसभा क्षेत्र गन्ना बाहुल्य है, गन्ने पर यहां जबरदस्त राजनीति होती है। लेकिन गन्ना किसानो की समस्या जस की तस है। दो सुगर मिले वर्षों से बन्द पड़ी हैं। उत्तर प्रदेश के एक राज्य मंत्री इसी गन्ने की राजनीति के उपज है। सन् 2012 से पूर्व यह विधान सभा सामान्य था। उसके बाद से नये परिसीमन में अनुसूचित जाति के कैंडिडेट के लिए सुरक्षित हो गया।

भाजपा के दावेदार –

यहां से भाजपा के टिकट के लिए दावेदारों की लम्बी कतार है जिनमे प्रमुख रूप से महेन्द्र प्रसाद गोंड, पूर्व विधायक दीपलाल भारती, रामानंद बौद्ध, ए के बादल, डा शेषमणि गोंड, हरिनाथ भाई, सुरेंद्र प्रसाद, दहारी प्रसाद, ब्रह्म शंकर चौधरी आदि प्रमुख है। भाजपा से टिकट की दावेदारी करने वाले महेन्द्र प्रसाद गोंड वर्तमान मे नगर पंचायत रामकोला के चेयरमैन हैं। कुछ माह पूर्व ये भाजपा मे सम्मिलित हुए हैं। तभी से जनसंपर्क और तरह-तरह के कार्यक्रम में लगे हैं। इन्होने कुछ माह पूर्व आदिवासी गोंड संघ का सम्मेलन भी आयोजित करवाये थे। जिसमे गोंड संघ के राष्ट्रीय नेताओ के साथ भाजपा के कई नेता भी सम्मिलित हुए थे।

अगले दावेदार पूर्व विधायक दीपलाल भारती पुराने भाजपाई हैं और नौरंगिया सुरक्षित सीट से विधायक भी रह चुके हैं। पिछली विधानसभा का चुनाव भाजपा के टिकट पर रामकोला विधानसभा से लड़ चुके हैं। युवा भाजपा नेता एके बादल भी टिकट के लिए अपना भाग्य आजमा रहे हैं। ये पिछली विधानसभा चुनाव इसी सीट से पीस पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़े थे। चुनाव हारने के कुछ ही माह बाद भाजपा मे सम्मिलित हो गये। वही रामानंद बौद्ध पिछला चुनाव कांग्रेस के टिकट पर रामकोला विधानसभा से लड़े थे। लोक सभा चुनाव के समय ही श्री बौद्ध कांग्रेस छोड़कर भाजपा मे आ गये थे। भाजपा से टिकट के लिए प्रयास कर रहे हैं।

अब देखना हैं की बीजेपी इस समस्या को ख़तम करके कौन से उम्मीदवार पे अपना भरोसा जताती हैं |

Previous articleआप भी देखना चाहेंगे श्रद्धा कपूर की यह खूबसूरत तस्वीरें
Next articleसलमान की हड्डियाँ तोड़ के निकाल दूगा उसकी सुल्तान्गीरी : स्वामी ओम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here