आंध्रप्रदेश में 12 घंटे तक गुल रही अस्पताल की बिजली , हुई 20 मरीजो की मौत

0
706

जहाँ एक तरफ मोदी सरकार देश को डिजिटल बनाने का सपना देख रही हैं और हर एक घर में बिजली पहुचने का वादा कर रही हैं तो वही दूसरी और लगातार अस्पतालों में मरीजो की मौत हो रही हैं \ अभी हाल ही में एक घटना सामने आई हैं जिसमे आंधप्रदेश के जिला कुरनूल के गवर्मेंट अस्पताल में 12 घंटे तक गुल रही बिजली ने 20 मरीजों की जिंदगी ले ली। रातभर गायब रही बिजली की सुध ना अस्पताल के सीनियर डॉक्टरों ने ली और ना ही बिजली विभाग के कर्मियों ने, इसका नतीजा ये निकला कि 20 मरीजों की मौत हो गई। भंयकर लापरवाही के इस मामले पर राज्य सरकार ने जांच के आदेश दिए हैं। बुधवार शाम से गुरूवार सुबह तक अस्पताल में बिजली नहीं थी, जिससे जीवनरक्षक मशीने तक बंद हो गईं और 20 मरीजों की जान चली गई।

no electricity in ap hospital for 12 hours

बुधवार शाम सात बजे गई बिजली , अगले दिन सुबह आई

अस्पताल में बुधवार शाम 7 बजे बिजली की सप्लाई बंद हुई जो गुरुवार सुबह करीब सात बजे तक नहीं आई। कोई भी सीनियर डॉकटर इसस दौरान ड्यूटी पर नहीं था। जब अस्पताल में हाहाकार मच गया तो गुरुवार सुबह को डॉक्टर और सीनियर अधिकारी मौके पर पहुंचे। मरने वाले 20 मरीजों में आठ बच्चे और दो महिलाएं हैं। घटना से पूरे शहर में कोहराम मचा है।

सभी गरीब परिवार के

खबर के मुताबिक, मरने वालों में सभी गरीब मरीज हैं। जिनके तीमारदारों ने रात में स्टाफ से उनकी तबीयत बिगड़ने की बात कही तो उन्हें देखने की बात कहकर टरका दिया। बताया जा रहा है कि अस्पताल के पास स्थित एक पुलिस चौकी पर अवैध रूप से बिजली जलाए जाने की वजह से अस्पताल की बिजली गुल हो गई। पुलिसकर्मियों का कहना है कि उन्होंने रात में बिजलीकर्मियों को अवगत कराया था लेकिन कोई भी मौके पर नहीं पहुंचा। अस्पताल स्टाफ का कहना है कि लाइनमैन को भेजने के लिए कई दफा बिजलीघर फोन किया गया लेकिन रात में कोई नहीं आया और सुबह होने पर ही बिजली ठीक की गई। आंध्र प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री कमनेनी श्रीनिवास ने मामले पर रिपोर्ट मांगी है।

Previous articleदेश के नाम प्रवण मुखर्जी का ये आखिरी सन्देश
Next articleये होंगे बीजेपी की तरफ से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here