राहुल ने मोदी से पूछा गडकरी वाला सवाल, कहा है नौकरियां?

0
328

नई दिल्ली: मराठा आरक्षण आन्दोलन बीते दिनों देश में सुर्ख़ियों में रहा और इसके चलते महाराष्ट्र में व्यापक हिंसा हुई| इसी मराठा आरक्षण की मांग को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा था कि जब नौकरी ही नहीं तो आरक्षण कैसे दें? मराठा आरक्षण की मांग को लेकर हो रहे आंदोलन के बीच नितिन गडकरी के इस बयान के बाद मोदी सरकार मुश्किलों में घिरती दिखाई दे रही है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने नितिन गडकरी के इसी बयान को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला है।

राहुल ने पूछा कहा है नौकरियां?– राहुल गांधी ने नितिन गडकरी के बयान पर हमला बोलते हुए ट्वीट किया, सही बात है, यही सवाल तो हर भारतीय पूछ रहा है कि कहां हैं नौकरियां?’ बता दें कि रोजगार के मुद्दे पर विपक्ष लगातार हमलावर रहा है और मोदी सरकार को नौकरियों के मुद्दे पर घेरता रहा है। ऐसे में नितिन गडकरी का ये बयान सरकार के लिए नई मुश्किल खड़ी करता दिखाई दे रहा है।

क्या बोले थे गडकरी– बता दें कि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने औरंगाबाद में पत्रकारों से कहा था कि केंद्र की मोदी सरकार आर्थिक आधार पर आरक्षण की बात पर यकीन रखती है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार का मानना है कि आरक्षण वित्तीय स्थिति के आधार पर दिया जाना चाहिए, न कि जाति, भाषा या क्षेत्र के आधार पर। मराठा आरक्षण के लिए चल रहे विरोध के लिए मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस रास्ता तलाशेंगे।

सरकारी भर्तियाँ रुकी हुई है- गडकरी

उन्होंने कहा था कि आरक्षण रोजगार देने की गांरटी नहीं है क्योंकि नौकरियां कम हो रही हैं। उन्होंने कहा था कि आरक्षण दे भी दिया जाए तो नौकरियां कहां हैं। सरकारी भर्ती भी रुकी हुई है, ऐसे में नौकरियां हैं ही कहां? गडकरी ने कहा कि गरीब गरीब होता है और उसका कोई धर्म, पंथ नहीं होता है।

rahul-gandhi-attacks-on-modi-via-gadkari

राहुल के सवाल से बोलती बंद– जाहिर है की राहुल गाँधी के इस सवाल पर किसी भी बीजेपी नेता की कोई प्रतिक्रिया नहीं आई और ना ही उन्हें किसी ने इसका कोई जवाब दिया| आपको बता दे की सरकार लगातार नौकरी और बेरोजगारी के मुद्दे पर गिर रही है और ऐसे में उसके लिए आगामी चुनाव भी मुश्किल हो रहा है|

राहुल हो रहे हमलवार– जाहिर है की जिस तरह से राहुल गाँधी आये दिन बीजेपी पर हमला बोल रहे है वो बीजेपी के लिए सरदर्द बन चुका है| राहुल गाँधी समय समय पर बेरोजगारी, गरीबी और माँब लिंचिंग जैसे मुद्दे देश में उठाते रहते है और मोदी सरकार ऐसा नहीं चाहती है क्योकि ये उसकी सरकार की सबसे बड़ी नाकामी साबित होती दिखाई दे रही है| ऐसे में राहुल गाँधी की बाते उनकी सरकार पर हावी हो रही है और राहुल का कद जनता के सामने बढ़ रहा है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here