बहुमत नहीं इस्तीफ़ा दे सकते है येदुरप्पा, बीजेपी के लिए पांच बुरी खबरे

0
847
Yeddyurappa may resign five bad news for BJP

विधानसभा में बीएस येदुरप्‍पा के शाम 4 बजे होने वाले फ्लोर टेस्‍ट से पहले कर्नाटक में बीजेपी का चौथा टेप सामने आ गया है। जनार्दन रेड्डी का ऑडिये टेप, श्रीरामुलु का ऑडियो टेप और तो और बीएस येदुरप्‍पा का ऑडियो टेप भी कांग्रेस ने मीडिया के सामने पेश कर दिया है। फ्लोर टेस्‍ट से पहले कांग्रेस की ओर से जारी किए गए टेप दर टेप से बीजेपी का शीर्ष नेतृत्‍व सकते में आ गया है। हालांकि, बीजेपी ने कांग्रेस के हर दावे को बिना देरी किए खारिज कर दिया, लेकिन सूत्रों के हवाले से यह भी खबरें आ रही हैं कि बीजेपी का शीर्ष नेतृत्‍व इस छीछालेदर से आजिज आ गया है। आइए डालते हैं उन सनसनीखेज दावों पर एक नजर, जो दे रहे हैं कर्नाटक फ्लोर टेस्‍ट से पहले बीजेपी के लिए बुरे संकेत।

Yeddyurappa may resign five bad news for BJP

  • सोमवार सुबह विधायकों के शपथ के बाद कांग्रेस के कई विधायकों के गायब होने, किडनैप होने जैसी खबरें आने लगीं। कुछ घंटे ऐसी खबरें चलने के बाद टीवी 9 ने दावा किया कि बहुमत साबित करने से पहले भाजपा खेमे में मायूसी छा गई है और भाजपा नेताओं के बीच बैठकों का दौर शुरू हो चुका है।
  • टीवी 9 ने ही एक और हैरान करने वाली खबर दी कि बीएस येदुरप्पा बहुमत साबित करने से पहले ही इस्‍तीफा दे सकते हैं। रिपोर्ट में दावा किया गया कि येदुरप्‍पा के लिए 13 पेज का भाषण तैयार कर लिया गया है।
  • सबसे पहला कथित टेप बीजेपी समर्थक जनार्दन रेड्डी का आया था, जिसमें वह कांग्रेस विधायक को येदुरप्पा के पक्ष में वोट देने के लिए ललचा रहे हैं। इस कथित टैप में आरोप है कि जनार्दन रेड्डी कांग्रेस विधायक को करोड़ों रुपये और वोट के बदले मंत्री पद देने का लालच दे रहे हैं।
  • कांग्रेस के टेप की आंधी में येदुरप्‍पा खुद भी नहीं बच सके और उनका भी कथित टेप मीडिया के सामने रख दिया गया। आरोप है कि सीएम येदुरप्पा ने कांग्रेस विधायक बीसी पाटिल को पद और अन्य लालच देकर पक्ष में वोट देने को कहा। कांग्रेस विधायक पाटिल ने इस पूरी बातचीत को रिकॉर्ड कर लिया और सदन में बहुमत साबित होने से पहले इसे रिलीज कर दिया। कांग्रेस का दावा है कि येदुरप्‍पा ने उनके विधायक से कहा- बीएस येदुरप्पा- ‘कोच्चि मत जाओ, वापस आ जाओ। वापस आ जाओ हम तुम्हें मंत्री बना देंगे और तुम जैसा चाहोगे तुम्हारी मदद की जाएगी।’
  • सबसे बड़ा संकेत, कांग्रेस की ओर से जारी किए गए टेप हैं। हालांकि, इन पर बीजेपी सवाल उठा रही है, लेकिन इस समय साफ नजर आ रहा है कि कांग्रेस-जेडी-एस ने अपने विधायकों को अच्‍छे से बचाकर रखा। फ्लोर टेस्‍ट से पहले कांग्रेस भले ही बीजेपी पर सिर्फ आरोप लगा रही थी, लेकिन उसने फ्लोर टेस्‍ट के दिन एक के बाद एक ऑडियो टेप जारी कर बीजेपी खेमे में खलबली मचा दी। कांग्रेस की इस रणनीति के चलते बीजेपी के लिए मोरल ग्राउंड पर खड़ा होना बेहद मुश्किल हो गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here