उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड की भाजपा की जीत के बाद ये कहा अमित शाह व शाहनवाज हुसैन ने

0
888
Not only from opponents, the rebels are also upset Shah and Modi

उत्तर प्रदेश में भाजपा को पूर्ण बहुमत मिला हैं. इसके साथ ही त्रिशंकु विधानसभा जैसी अटकलों को विराम भी लग गया. जिस तरह से भाजपा को यूपी में प्रचंड बहुमत मिला हैं ऐसा लगता हैं कि इसकी उम्मीद तो भाजपा नेताओं को भी नहीं रही होगी. इस बार की होली को पीएम मोदी ने अपने कहे के मुताबिक भगवा कर ही दिया. चुनाव परिणामों के बाद बसपा सुप्रीमों मायावती व सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश ने प्रेस कांफ्रेंस करके अपने अपने पक्ष की बात रखी.

एक ओर मायावती को ईवीएम में गड़बड़ अपनी हार का कारण दिखाई दिया दुसरी ओर अखिलेश ने भाजपा को दिल बहलाने वाली बातें करने का खिताब दे दिया. अब बात करते हैं कि भाजपा के नेताओं ने अपनी जीत के विषय में क्या कहा.

Not only from opponents, the rebels are also upset Shah and Modi

क्या कहा भाजपा नेताओं ने

अखिलेश यादव ने भी मायावती के ईवीएम  की जाँच के बयान का समर्थन किया था. अखिलेश के इसी ईवीएम की जांच वाले बयान पर भाजपा ने पलटवार किया है. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि उन्हें (अखिलेश) जनादेश का आदर करना चाहिए. बीजेपी के वरिष्ठ प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि, देश की जनता ने भाजपा की नीतियों, अमित शाह की रणनीति और मोदी के नेतृत्व पर फिर मुहर लगाई है. उन्होंने कहा कि बीजेपी केंद्र में पिछले ढाई साल से सत्ता में है और विरोधियों ने हमारे ऊपर तरह-तरह के आरोप लगाए. नोटबंदी और सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर बहुत सारी बातें बनाई.

उत्तरप्रदेश सहित अन्य राज्यों में विकास की सरकार की तारीफ करते हुए शाहनवाज हुसैन कहा कि, केंद्र के लिए प्रधानमंत्री ने बहुत कुछ किया है. जब प्रदेश में बीजेपी सत्ता में आएगी तो प्रदेश की खुशहाली के लिए पूरा जोर लगाएगी. जैसा बीजेपी शासित अन्य राज्यों में देखने को मिल रहा है.’

नतीजों के बाद मीडिया से बात करने आए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा, ”जो नतीजे आए हैं वो उत्साहवर्धक और आनंदित करने वाले हैं. पांचों राज्यों के नतीजे देश को नई दिशा देने वाले हैं. ये नरेंद्र मोदी की जीत है और पार्टी के करोड़ों कार्यकर्ताओं की जीत है. सीएम के सवाल पर अमित शाह ने कहा, ”कल यहां बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक होगी. प्रधानमंत्री मोदी भी शामिल होंगे. उसकी बाद उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के सीएम पर फैसला लिया जाएगा.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here