यूपी चुनाव में पहली बार होगा ऐसा

0
656

यूपी चुनाव जो की इस समय पूरे देश की नजरो में हैं क्योकि हर कोई जानना चाहता हैं की नोटबंदी बीजेपी को फायदा दिलाएगी या नुकसान |

इस बार चुनाव आयोग ने पुलिसकर्मियों की सुविधा के लिए यूपी चुनाव में कुछ ऐसा किया हैं जो की पहली बार होगा जिससे की पुलिसकर्मियों को बहुत ही ज्यादा आराम होगा | इस बार एसएसपी के द्वारा एक “ पुलिस इलेक्शन मैनेजमेंट सॉफ्टवेयर ” बनाया गया हैं जो की हर पुलिस कर्मी को चुनाव में बहुत मदत करने वाला है , आइये जानते हैं इसके बारे में |

It will be the first in UP election

क्या हैं “ पुलिस इलेक्शन मैनेजमेंट सॉफ्टवेर ”

चुनावी सरगर्मी आते ही अक्सर पुलिस वाले असमंजस की स्थिति में रहते हैं की उनकी ड्यूटी कहा लगेगी ? कौन से वाहन से जाना हैं ? बूथ सामान्य हैं या संवेदनशील ? तो इन सब समस्यायों से निपटने के लिए  सिस्टम  बनाया गया हैं जो की पुलिस वालों के लिए हैं और इसमें इन सब सवालो के जवाब मिलेगे |

बताया जा रहा हैं की इसके द्वारा हफ्ते भर पहले ही हर एक पुलिस वाले के मोबाइल में मैसेज आ जाएगा की उसकी ड्यूटी कहा लगी हैं और कौन से बूथ में लगी हैं और वह सामान्य हैं या संवेदनशील |

और कौन सी जानकारी मिलेगी –

इसके तहत कई सारी जानकारिया मिलेगी जिनमे ये निम्न हैं –

  • किस ड्यूटी के लिए लगाया गया है –

इसके द्वारा हर पुलिस कर्मी जान सकेगा की उसे किस लिए तैनात किया गया हैं |
2- पोलिंग बूथ और उसका नंबर –

पुलिसकर्मी को जानकारी मिलेगी कौन सा बूथ हैं और उसका नंबर क्या हैं |
3-  किस वाहन से जाना है –

आमतौर पे पुलिसकर्मियों को असमंजस होता हैं की वह गंतव्य स्थान तक किस वाहन से पहुचेगे लेकिन इसके द्वारा यह भी जानकारी मिलेगी |
4- बूथ संवेदनशील है या सामान्य-

अधिकांशतः बूथ संवेदनशील होते हैं जिनके बारे में जानकारी मिल जाएगी |
5-  थाना व थानाध्यक्ष कौन हैं –

बूथ किस थाणे के अंतर्गत आता हैं और उसका थानाध्यक्ष कौन हैं |
6-  जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट कौन हैं –

जोनल और सेक्टर मजिस्ट्रेट की जानकारी भी इसी मे उपलब्ध रहेगी |

वाराणसी एसएसपी नितिन तिवारी ने बताया कि अब तक पंचायत, विधानसभा, लोकसभा और उप चुनाव में सात बार अन्य जिलों में इसका प्रयोग किया गया है।

Previous articleखत्म होने का नाम नहीं ले रही सपा परिवार की अंतर्कलह. इस बार ये मुद्दे बने तकरार की वजह.
Next articleयूपी में सीएम पद की उम्मीदवारी छोड़ने को लेके क्या बोली शीला दीक्षित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here