जानिये क्यों एक नहीं लिख पा रहे योगी के विधायक और मंत्री, सीएम ने एक की जगह कड़ी पाई बनाने की दी ट्रेनिंग

0
668

फूलपुर और अपने गढ़ गोरखपुर में उपचुनाव हारने के बाद बीजेपी अब कोई भी मौका नहीं छोड़ना चाहती और उसकी सीधी नजर राज्यसभा सीटो पर है | उत्तर प्रदेश की 10 राज्‍यसभा सीटों के लिए 23 मार्च को होने वाले मतदानों के लिए भारतीय जनता पार्टी ने कमर कस ली है। भाजपा ने अपनी क्षमता से अधिक नौ उम्मीदवार उतारकर विपक्ष के मतों में सेंधमारी कर एक बड़ा किला फतेह करने की तैयारी की है। इसे गोरखपुर और फूलपुर संसदीय सीट पर उपचुनाव में मिली हार की भरपाई के तौर पर देखा जा रहा है। किसी तरह की कोई गलती न हो इसलिए बुधवार को सीएम योगी के सरकारी आवास पर विधायकों को एक-एक वोट सहेजने की प्रैक्‍टिस करायी गई। विधायकों और मंत्रियों को वोट डालने के हुनर सिखाए गए। इस बैठक में मंत्री ओमप्रकाश राजभर भी शामिल हुए।

Know why the Yogi's legislator and minister, unable to write

खीच दे लाइन –

विधायकों और मंत्रियों को वोट का हुनर सिखाते हुए ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि जो कोई एक न लिख सके वह एक खड़ी पाई खींच दे। उन्होंने विधायकों से कहा कि वे मतदान के समय एक या दो के चक्कर में न पड़े बल्कि जो एक न लिख सके वह एक खड़ी पाई खींच दो। राज्यसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने 10 में से 9 उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारा है।

सभी विधायकों को राज्यसभा चुनाव के दौरान कैसे मतदान करना है और एजेंट को कैसे अपना वोट दिखाना है, इसका अभ्यास करवाया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिसको जिस वरीयता का वोट अलॉट हो, वही मतदान करे। दोनों लाइनों के बीच में एक लिखें। मतदान के दौरान अपना पेन और मोबाइल लेकर अंदर न जाएं। योगी ने इस अवसर को न चूकने का संकल्प देते हुए विधायकों को नौ सीटें जीत के लिए प्रेरित किया। महेंद्र पांडेय और बंसल, आशीष पटेल ने भी विधायकों को प्रेरित किया। संचालन सुरेश खन्ना ने किया। भाजपा के पास आठ उम्मीदवारों को जिताने भर पर्याप्त मत हैं लेकिन, नवें उम्मीदवार के विधायकों के वोट का जुगाड़ करना है।
भ्रष्ट्राचार को लेकर कही बड़ी बात –

तो वही यूपी सरकार के एक साल पूरे होने पर बुधवार को फिरोजाबाद के पुलिस लाइन मैदान में आयोजित लाभार्थी सम्मलेन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम यूपी को भयमुक्त और खुशहाल यूपी बना रहे हैं। मुख्यमंत्री ने अपने भाषण में कहा कि, सरकार जनता के प्रति जवाबदेह है। अगर कोई शोषण करता है, घूस लेने का प्रयास करता है और आपके काम को लेकर अगर कोई टालमटोली करता है तो बस वीडियो बनाकर एंटी करप्शन सेल पर डाल दीजिए। सीएम योगी ने कहा कि, सरकार ने एंटी करप्शन पोर्टल का गठन किया है। इस पोर्टल पर आप गूगल के माध्यम से जाकर जुड़ जाएं और उस वीडियो को उस पर अपलोड कर देना।

yogi

Previous articleकर्णाटक चुनाव प्रचार के दौरान फिसली अमित शाह की जुबान, येदुरप्पा को बताया सबसे भ्रष्ट
Next articleबॉलीवुड की इन फिल्मों में महिलाओ ने लहराया अपने अभिनय का परिचम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here