मध्यप्रदेश विधानसभा चुनावो से पहले बीजेपी को लगा झटका, कांग्रेस ने जीती 7 में से 6 सीटें

0
833

भोपाल: मध्यप्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव साल के अंत में होने है और इसके लिए बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही कमर कस चुके है| लेकिन जो खबर आई है उस खबर से बीजेपी की नींद उडनी तय है क्योकि पचमढ़ी निकाय चुनावों में बीजेपी की करारी हार हुई और कांग्रेस को 7 में 6 सीटें मिली है| खास बात ये है कि पंचमढ़ी छावनी परिषद में 23 साल बाद कांग्रेस को जीत मिली है। कांग्रेस इस जीत को विधानसभा चुनावों के लिए शुभ संकेत मान रही है। आपको बता दें कि छावनी परिषद में अध्यक्ष सेना के पदेन अधिकारी होते हैं। वर्तमान में कमांडेंट कर्मवीर इसके अध्यक्ष हैं।

दो साल बाद हुए थे चुनाव– पचमढ़ी छावनी परिषद में दो साल बाद चुनाव हुए हैं। दो साल से सेना की तदर्थ समिति ही परिषद का संचालन कर रही थी। रविवार को दोपहर में छावनी परिषद के सभी 7 वार्ड में चुनाव हुआ। यहां कुल 4495 मतदाता हैं। मतदान का प्रतिशत 79.27 रहा। मतदान रविवार सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक हुआ, इसके बाद रात 8 बजे से मतगणना शुरू हुई।

Congress won 6 out of 7 seats in madhya pradesh Pachmarhi body elections

क्यों हारी भाजपा- पचमढ़ी में बीजेपी के हार की कई वजहे है| सबसे पहली बात मूलभूत सिविधाओ की है जो पिछले कई सालो से स्थानीय लोगो को नहीं मिल रही है| पचमढ़ी में लगातार गंदगी का आलम बन हुआ है और अथ्नीय नेता केवल भाषणबाजी करने में व्यस्त है| इसके अलावा कुछ पहले अतिक्रमण हटाया गया था जो की धीरे धीरे एक बार फिर से बढ़ गे लेकिन अतिक्रमण हटाने में बीजेपी की कोई निष्पक्ष भूमिका नहीं थी जिस बात से स्थानीय लोगो में बीजेपी के खिलाफ काफी गुस्सा है और उन्होंने इसी का नतीजा बीजेपी को दिया है| अतिक्रमण एक बड़ी समस्या बन चुका था और नेता सुन नहीं रहे थे| इसके अलावा सबसे बड़ी बात थी बीजेपी के शासन करने के तरीके से एमपी की जनता चिद चुकी है| पिछले कई सालों से बीजेपी वहां काबिज है लेकिन प्रदेश के हालातो में कोई भी सुधर नहीं हुआ है और वो लगातार पीछे जा रहा है| इन्ही कई वजहों से बीजेपी को कर्री हार मिली|

कांग्रेस की जीत की वजह– कांग्रेस की जीत की वजह थी की कांग्रेस ने लगातार लोगो का मुद्दा उठाया था और जमीनी कार्यो को महत्ता दी थी| इसके अलावा सही प्रत्याशी का चुनाव भी कांग्रेस के जीत की मुख्य वजह थी|

बड़े बदलाव- आगामी विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस ने राज्य में नेतृत्व के स्तर पर कई बड़े बदलाव किए हैं। छिंदवाड़ा से सांसद और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ को प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है, वहीं गुना से सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को चुनाव प्रचार की कमान सौंपी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here