कर्णाटक के लोकायुक्त पर किया गया चाकू से हमला, सुरक्षा में लगे सेंध से देशभर में उठे सवाल

0
999
Karnataka Lokayukta attacked by knife

देश में अपराधियों का कहर इस कदर बढ़ता चला जा रहा है की आम आदमी ही नहीं बल्कि वीवीआईपी तक सुरक्षित नहीं है | ताजा मामला है कर्णाटक का जहाँ कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरू में लोकायुक्त पी विश्वनाथ शेट्टी पर उनके ऑफिस में एक शख्स ने चाकू से हमला कर दिया। इस शख्स ने लोकायुक्त जस्टिस शेट्टी पर चाकू से हमला किया, जिसमें वो गंभीर रूप से घायल हो गए। गंभीर अवस्था में उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है। हालांकि लोकायुक्त पर जिस तरह से हमला हुआ उसको लेकर कई सवाल उठ रहे हैं। सबसे बड़ा सवाल यही है कि आखिर कैसे एक शख्स चाकू के साथ लोकायुक्त के ऑफिस में पहुंच गया।

Karnataka Lokayukta attacked by knife

सुरक्षा में उठे सवाल –

जिस तरह से जस्टिस पी विश्वनाथ शेट्टी पर हमला हुआ, शुरूआती तौर पर देखा जाए तो ये मामला सुरक्षा में चूक का लग रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि बेंगलुरू में लोकायुक्त जस्टिस पी विश्वनाथ शेट्टी के ऑफिस में इंट्रेंस गेट पर मेटल डिटेक्टर लगे थे, बावजूद इसके एक शख्स चाकू के साथ उनके ऑफिस में एंट्री कर गया। लोकायुक्त जस्टिस पी विश्वनाथ शेट्टी का ऑफिस बेंगलुरू के एमएस बिल्डिंग में है। मेटल डिटेक्टर के बावजूद आरोपी शख्स चाकू के साथ एंट्री करना बड़े सवाल खड़े करता है।

लोकायुक्त पर चाकू से हमले के बाद कमरे से शोर सुनाई दिया जिसके बाद जस्टिस शेट्टी के गनमैन कमरे में पहुंचे। उन्होंने देखा जस्टिस शेट्टी जमीन पर गिरे हुए हैं। आरोपी ने तुरंत ही भागने की कोशिश की, हालांकि वो पकड़ा गया। आरोपी ने जिस तरह से पूरे मामले को अंजाम दिया इससे साफ नजर आ रहा है कि उसने पूरी रणनीति के तहत घटना को अंजाम दिया। फिलहाल जस्टिस शेट्टी का इलाज अस्पताल में चल रहा है। उनकी हालत अभी स्थिर बताई जा रही है। प्रदेश के सीएम सिद्दारमैया और गृहमंत्री उन्हें देखने अस्पताल पहुंचे। फिलहाल पुलिस मामले सुरक्षा व्यवस्था में चूक को लेकर भी जांच कर रही है।

पहले से तैयार था हमलावर –

आरोपी की पहचान तेजराज शर्मा के तौर पर हुई है। आरोपी तुमकुर का रहने वाला है। पुलिस ने शुरूआती जानकारी के बाद बताया कि आरोपी तेजराज शर्मा, जस्टिस शेट्टी से मिलने के लिए आया था। हालांकि जस्टिस शेट्टी ने उस शख्स को कुछ देर बाहर इंतजार करने के लिए कहा था। कुछ देर बाद लोकायुक्त जस्टिस शेट्टी ने तेजराज शर्मा को मिलने के लिए बुलाया। नियमों के मुताबिक जब भी कोई जांच के लिए या फिर शिकायत देने के लिए आता है तो लोकायुक्त के सुरक्षाकर्मी समेत किसी को उस कमरे में रहने की अनुमति नहीं दी जाती। इसी का फायदा उठाकर आरोपी शख्स ने लोकायुक्त जस्टिस शेट्टी पर हमला किया।

मेटल डिटेक्टर के बावजूद चाकू लेकर कैसे पहुंचा हमलावर

जाहिर है की लोकायुक्त पर हुए इस हमले की चर्चा देशभर में हो रही है और इसे सुरक्षा में एक बड़ी चूक बताया जा रहा है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here