आरएसएस और बीजेपी के डीएनए में है दलितों को हमेशा दबाये रखना: राहुल गाँधी

0
585

एसी/एसटी एक्ट में बदलाव के खिलाफ आज पूरे देश में दलित समाज सड़कों पर आंदोलनरत हैं। कई शहरों से हिंसक झड़पों की खबरें भी आ रही हैं। दलित संगठनों के इस देशव्यापी आंदोलन को अब राजनीतिक दलों का समर्थन भी मिल रहा है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी दलित आंदोलन का समर्थन किया है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि, दलितों को निचले पायदान पर रखना RSS/BJP के DNA में है।

राहुल का ये ट्वीट –

राहुल गांधी ने ट्वीट में लिखा कि, ‘दलितों को भारतीय समाज के सबसे निचले पायदान पर रखना आरएसएस और भाजपा के डीएनए में है। जो इस सोच को चुनौती देता है उसे वे हिंसा से दबाते हैं। हजारों दलित भाई-बहन आज सड़कों पर उतरकर मोदी सरकार से अपने अधिकारों की रक्षा की माँग कर रहे हैं। हम उनको सलाम करते हैं।’ इससे पहले कांग्रेस पार्टी ने एसएसी-एसटी कानून पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर सरकार के रिव्यू पीटिशन दाखिल करने के फैसले का आज एक बार स्वागत किया है और मांग की है कि इस बात की जांच होनी चाहिए कि आखिर कोर्ट में सरकार की ओर से पैरवी ठीक तरीके से क्यों नहीं की गई और केस सरकार हार गई।

RSS and BJP's have always pressed Dalits: Rahul Gandhi

राहुल का ये बड़ा फैसला

कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने अहम फैसला लेते हुए शक्ति सिंह गोहिल को बिहार कांग्रेस का प्रभारी बनाया गया है। डॉ. सीपी जोशी अब तक बिहार के प्रभारी थे, उनकी जगह शक्ति सिंह गोहिल को पार्टी ने बिहार का प्रभारी बनाया है। आगामी लोकसभा चुनाव के साथ-साथ बिहार में जिस तरह से हालात बदल रहे हैं ऐसे में पार्टी ने ये अहम फैसला लिया है। कांग्रेस के महासचिव अशोक गहलोत ने इस फैसले के ऐलान करते हुए शक्ति सिंह गोहिल को बिहार के प्रदेश प्रभारी के पद पर नियुक्त करने का आदेश जारी किया।

शक्ति सिंह गोहिल गुजरात कांग्रेस के बड़े नेता हैं। वकालत और पत्रकारिता की पढ़ाई कर चुके 57 वर्षीय शक्ति सिंह गोहिल गुजरात सरकार में दो बार मंत्री रह चुके हैं। शक्ति सिंह गोहिल गुजरात विधानसभा में नेता विपक्ष भी रहे हैं। शक्ति सिंह गोहिल का संबंध प्रतिष्ठित राजघराने से है, राजनीति उन्हें विरासत में मिली है। गोहिल कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता भी हैं।

अब तक बिहार में थे सीपी जोशी

इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को अहम फैसला लेते हुए पार्टी संगठन में बड़ा बदलाव किया था। कांग्रेस अध्यक्ष ने राजस्थान के पूर्व सीएम अशोक गहलोत को पार्टी का संगठन महासचिव बनाया। पार्टी के वरिष्ठ नेता जनार्दन द्विवेदी की जगह अशोक गहलोत को ये जिम्मेदारी दी गई। जनार्दन द्विवेदी की ओर से दस्तखत कर जारी किए प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया कि जनार्दन द्विवेदी की जगह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अशोक गहलोत को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी का महासचिव नियुक्त किया है।

Previous articleजीएसटी के बाद एक अप्रैल से लागू होगा एक नया बिल, जाने इसके बारे में
Next articleइस अभिनेत्री का नाम सुनते ही गोलीबारी तक बंद कर देते थे अफगानी आतंकी, वजह जानकार आप भी रह जायेंगे हैरान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here