इस बार आईपीएल की चमक पड़ जाएगी फिकी, यह एक फैसला बदलेगा टूर्नामेंट का मिजाज……

0
1214
this time ipl popularity will be less

IPL के दीवाने तो देख दुनिया में भरे पड़े हैं, जिसे देखने के लिए प्रशंसक इंतजार मे रहते हैं । IPL 2007 में भारत के सदस्य ललित मोदी ने क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड द्वारा स्थापित किया गया अप्रैल और हर साल के मई के ऊपर निर्धारित है । 2016 में IPL का टाइटल प्रायोजक विवो इलेक्ट्रॉनिक्स इस प्रकार लीग को अधिकारिक तौर पर विवो इंडियन प्रीमियर लीग के रूप में माना जाता है । IPL दुनिया में सबसे अधिक खेला जाने वाला खेल है , और सभी खेलों में इस खेल को छठा स्थान प्राप्त है। 2010 में IPL पूरी तरह से बन गया और YouTube पर सीधा प्रसारण किया जाने लगा। जैसे ही इस खेल के प्रारंभ होने की खबर फैलती है, वैसे ही दर्शकों में उत्साह और खुशियों उमड जाती है। हर बार आयोजक कुछ नया करने की सोचते हैं, और हर बार कुछ नया करने के प्रयास में रहते हैं । परंतु इस बार के आए बदलाव से प्रशंसकों में कुछ हताशा फैली हुई नजर आती है ।आइए जानते हैं इस रिपोर्ट में ……

IPL 2018………..

आईपीएल 2018 नीलामी के शुरू होते ही चारों और उल्लास के साथ दर्शकों के बीच यही वार्ता थी, कि इस बार का IPL एक महाकाय रूप लेकर तड़कता भड़कता आयोजित किया जाएगा। लेकिन सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त सी ओ ए ने इसके उद्घाटन पर पहले ही कटार चला दी। आईपीएल के 11वें सत्र का उद्घाटन समारोह पहले 6 अप्रैल को मुंबई में क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया में होना था, लेकिन बाद में इसे बदल कर 7 अप्रैल वानखेड़े स्टेडियम में होना निर्धारित किया गया ।

पहले बीसीसीआई ने उद्घाटन समारोह के लिए बॉलीवुड ही नहीं बल्कि हॉलीवुड सितारों को भी आमंत्रित करने का निर्धारित किया था ,और उद्घाटन समारोह IPL की शुरुआत से 1 दिन पहले करने की योजना बनाई गई थी। लेकिन सीईओ ने इस खर्चीले समारोह में बहुत से छोटे बड़े परिवर्तन कर दिए हैं, बीसीसीआई के कर्मचारियों का कहना है, कि सीईओ नहीं चाहते के उद्घाटन समारोह में 50 करोड रुपए का खर्च हो इसलिए पैसा बचाने के लिए इसे 1 दिन पहले आयोजित कराने की योजना बनाई जा रही है ।जिससे पैसा और समय दोनों ही बचेगा। पहला मैच मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच 7 मार्च को होना निर्धारित किया गया है। मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में 27 मई को इसका समापन करने की योजना बनाई गई है। 11 वे सत्र में 8 टीमों द्वारा कुल 60 मैच, 9 स्टेडियम में खेले जाएंगे।

सबसे जुदा होगा इस बार का IPL 2018 …..

इस बार IPL मैचों से बिल्कुल जुदा होने वाला है इसमें कुछ मजेदार का धमाकेदार होने की आशंका है ।बीसीसीआई द्वारा IPL के लिए अंपायर समीक्षा प्रणाली डी आर एस को हरी झंडी प्रदान की जाएगी‌ । इस बार आईपीएल में डीआरएस का पहली बार प्रयोग होगा ,बरसों से विरोध में आने वाली प्रणाली इस बार आईपीएल में लाई जाएगी ।2016 के इंग्लैंड दौरे के समय से सिस्टम में आए लचीलेपन की वजह से बीसीसीआई इसका विरोध करता रहा।
परंतु इस बार इस प्रणाली को अपना कर बीसीसीआई शायद एक नया इतिहास रचना चाहती है ।

अब पूरी जानकारी व मनोरंजन तो IPL के आने पर ही होगा जिसका सभी को बेसब्री से इंतजार है ।

ऐसी ही मजेदार खबरों के लिए जुड़े रहे हमारे साथ…..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here