बैंगलोर के एक फ्लैट में मिले 9746 वोटर कार्ड, आरोपों और प्रत्यारोपो का सिलसिला शुरू

0
650

कर्नाटक विधानसभा चुनाव से ठीक पहले जिस तरह से एक फ्लैट में हजारों संख्या में वोटर कार्ड पाए गए हैं उसके बाद इलेक्शन कमीशन ने प्लैट को सीज कर दिया है। साथ ही यहां फ्लैट की जांच की जा रही है। आपको बता दें कि बेंगलुरू के एक फ्लैट में 9746 वोटर कार्ड पाए गए थे। यह वोटर कार्ड जलाहल्ली इलाके के फ्लैट नंबर 115 में एसएलवी पार्क व्यू अपार्टमेंट में पाए गए थे, जिसके बाद चुनाव आयोग ने इस पूरे मामले की जांच के आदेश दे दिए थे|

9746 voter id card found in a flat in banglore

लगाये जा रहे है आरोप-

इन वोटर कार्ड के मिलने के बाद भाजपा ने कांग्रेस पर आरोप लगाया था कि वह चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश कर रही है। लेकिन भाजपा के आरोपों पर कांग्रेस ने पलटवार किया है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने दावा किया है कि जहां पर यह वोटर कार्ड पाए गए हैं वह भाजपा के नेता का फ्लैट है। लेकिन रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा के नेताओं का कहना है कि एन नंजमुरी के बेटे राकेश हैं। वहीं चुनाव आयोग का कहना है कि वह फ्लैट नंबर 115 में किराए पर रहते थे और उनका भाजपा से कोई ताल्लुक नहीं है। लेकिन मेरे पास 2015 के निकाय चुनाव में भाजपा के उम्मीदवारों की पूरी लिस्ट है और 16वें नंबर पर राकेश का नाम भाजपा उम्मीदवार के तौर पर दर्ज है। वह जलहल्ली विधानसभा सीट से भाजपा के उम्ममीदवार थे। कांग्रेस प्रवक्ता ने प्रेस कॉफ्रेंस करके इस पूरे मामले पर पार्टी का पक्ष रखते हुए कुछ दस्तावेज भी दिखाए, जिसमे उन्होंने कहा कि इस लिस्ट में भाजपा उम्मीदवार मंजुला नंजमुरी का नाम दर्ज हैं जोकि एचएमटी वार्ड से उम्मीदवार थीं और जलहल्ली के फ्लैट नंबर 115 में रहती थीं। आपको बता दें कि बेंगलुरू स्थित एक अपार्टमेंट में हजारों की संख्या में फर्जी वोटर आईडी कार्ड मिले थे, जिसके बाद से कांग्रेस विपक्ष के निशान पर हैं। इस घटना के बाद चुनाव आयोग ने पूरे मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।

सिद्धारमैया ने कहा सत्ता का दुर्पयोग क्र रही बीजेपी-

अब कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने इसपर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि इस मामले की जांच की जिम्मेदारी चुनाव आयोग की है, मुझे इस मसले पर कुछ नहीं कहना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस लगातार भाजपा सरकार की निगरानी में है। यह 12वीं बार है जब मैं चुनाव लड़ रहा हूं। इस तरह की छापेमारी चुनाव के दौरान की जाती है, ये लोग अपनी मशीनरी का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। वहीं जिस फ्लैट में यह वोटर कार्ड मिले हैंम उसे आयोग ने सीज कर दिया है।

इससे पहले कांग्रेस की ओर से इस पूरे मामले पर सफाई दी गई। पार्टी के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने 2015 चुनाव के दस्तावेजों को दिखाते हुए भाजपा पर आरोप लगाया है कि जिस फ्लैट में यह वोटर कार्ड पाए गए हैं वह भाजपा नेता का है।

siddaramaiah

Previous articleकर्णाटक में बीजेपी को मिलेगी 130 से ज्यादा सीटें, नहीं लेगे किसी पार्टी का समर्थन: अमित शाह
Next articleराहुल ने पेश किया दावा, 2019 में जरूर बनूगा पीएम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here