गुजरात में मोदी ने राहुल से पुछा , क्या आपको पता हैं सोमनाथ मंदिर का इतिहास

0
148

गुजरात में धुआंधार रैलियों का सैलाब आया हुआ हैं और पीएम मोदी समेत पूरी ब्रिगेड इस चुनाव को जीतने में लगी हुई हैं | अब गुजरात के चुनावी रण में सोमनाथ मंदिर के इतिहास ने भी एंट्री ले ली है। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा है राहुल गांधी को सोमनाथ मंदिर के इतिहास के बारे में पता नहीं है। पीएम ने कहा कि राहुल गांधी के परनाना या फिर उनके पिता के नाना ने सोमनाथ मंदिर नहीं बनवाया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘आज सोमनाथ का पताका पूरे विश्व में फहर रहा है। आज जिन लोगों को सोमनाथ याद आ रहे हैं, इनसे एक बार पूछिए कि तुम्हें इतिहास पता है? तुम्हारे परनाना, तुम्हारे पिता जी के नाना, तुम्हारी दादी मां के पिता जी, जो इस देश के पहले प्रधानमंत्री थे। जब सरदार पटेल सोमनाथ का उद्धार करा रहे थे तब उनकी भौहें तन गईं थीं।’ इतना ही नहीं भारत के राष्ट्रपति डॉ. राजेद्र प्रसाद को सरदार बल्लभभाई पटेल ने उद्घाटन के समय सोमनाथ आने का न्योता दिया। तब तुम्हारे परनाना पंडित जवाहर लाल नेहरू ने डॉ. राजेंद्र प्रसाद को पत्र लिखकर सोमनाथ के कार्यक्रम में जाने पर नाराजगी व्यक्त की थी।’ आपको बता दें कि सोमनाथ में ज्योतिर्लिंग है और हिंदू धर्म में इस मंदिर की बड़ी मान्यता है।

modi-asks-rahul-in-gujarat,-do-you-know-the-history-of-somnath-temple

राहुल भी पहुचे थे सोमनाथ

राहुल गांधी बुधवार को सोमनाथ मंदिर पहुंचे और भोलेनाथ का जलाभिषेक किया। कांग्रेस उपाध्यक्ष का दो दिवसीय दौरा 29 नवंबर से शुरू हुआ है। बता दें कि गुजरात चुनाव के पहले फेज की वोटिंग होने में अब बस 10 दिन बचे हैं

मंदिरों के चक्कर लगा रहे नेता –

जाहिर हैं चुनाव जीतने में धर्म ने सबसे अधिक साथ दिया हैं और हमेशा से ही यह नेताओं का सबसे बड़ा पैतरा रहा हैं जिसके चलते पीएम मोदी समेत कांग्रेस के युवराज राहुल गाँधी भी मंदिरों का दौरा करने में लगे हुए हैं और अभी हाल ही में राहुल गुजरात के एक शिव मंदिर में जाकर खुद को शिव भक्त कह रहे थी | आजका चुनाव जीतने का सबसे बड़ा हथियार हिंदुत्व हैं जो की लोकसभा चुनावों और यूपी चुनावों में साफ़ दिखा जिसके चलते सभी हिंदुत्व का झंडा लेकर गुजरात चले गए और सभी पार्टियों ने इसके दम पे वोट मागना शुरू कर दिया |

आपको बता दे की अभी तक के चुनावी रैलियो और प्रचार से कुछ साफ़ नहीं दिख रहा हैं की जीत किसकी होगी लेकिन कांग्रेस के प्रचार और मोदी की रैलियो को देखते हुए ये कहा जा सकता हैं की इस बार टक्कर काटें की हैं जिसमे मोदी का जादू कुछ ख़ास नहीं चलने वाला | गुजरात चुनाव के रिजल्ट 18 दिसंबर को आएगे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here