मोदी के दिल में दलितों के लिए कोई जगह नहीं: राहुल गाँधी

0
617

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर बड़ा हमला किया है। राजघाट पर बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा कि आज देश में हर व्यक्ति केंद्र सरकार के विपक्ष में खड़ा है। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिल में दलितों के लिए कोई जगह नहीं है। ये सरकार एंटी दलित है। राहुल ने कहा कि बीजेपी नेता विपक्ष के लोगों को जानवर बताते हैं। कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी को केवल सत्ता चाहिए और वह सत्ता के लिए सबकुछ करने को तैयार है। राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी दलित विरोधी है, हम दलितों, अल्पसंख्यकों के साथ हैं।

There is no place for Dalits in the heart of Modi: Rahul Gandhi

लगाये यी आरोप –

राहुल ने आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी की विचारधारा देश को बांटने की है और दलितों को कुचलने की है। राहुल ने आरोप लगाया कि ‘बीजेपी दलित विरोधी है, हम उन्हें 2019 में हराकर दिखाएंगे’। उपवास के बाद राहुल ने पत्रकारों से कहा कि बीजेपी की विचारधारा आदिवासियों और अल्पसंख्यकों को भी कुचलने की है। हम बीजेपी की विचारधारा के खिलाफ यहां खड़े हैं और जिंदगीभर खड़े रहेंगे। हम उनको (बीजेपी) 2019 में हराकर दिखाएंगे।

बीजेपी ने दिया जवाब –

राहुल गांधी के आरोपों के बाद बीजेपी ने भी कांग्रेस पर वार किए हैं। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी और राहुल गांधी ने राष्ट्रपिता के सत्याग्रह के आदर्शों को छलनी करके रख दिया है, राहुल जी आपने आज देश और दलितों के साथ जो मजाक किया है उसके लिए देश आपको माफ़ नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी जिस प्रकार से दलितों का उपहास करने की कोशिश कर रहें है, जनता उसका जरुर जवाब देगी। वहीं संबित पात्रा ने कहा कि जगदीश टाइटलर और सज्जन कुमार को जिस प्रकार से राजघाट को आज छोड़कर जाना पड़ा, इससे आज सिद्ध हो गया है की काग्रेस पार्टी कहीं ना कहीं अपना गुनाह स्वीकार करती है।

इस वजह से आज रखा उपवास –

बता दें कि एससी/एसटी एक्ट में बदलाव और उसके बाद 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान हुई हिंसा को लेकर दलित संगठनों में आक्रोश है। राहुल ने इस बंद का समर्थन किया था। संबित पात्रा ने कहा, ”कांग्रेस ने बाबा साहब और दलितों के साथ तुष्टीकरण की राजनीति की। उनकी सच्चाई सामने आ चुकी है और पोल खुल गई है। उन्‍होंने कहा कि ये फास्ट नहीं फास्ट ट्रैक है, राहुल गांधी की राजनीति को चमकाने के लिए। कांग्रेस इसके लिए किसी भी हद तक जा सकती है।”

जाहिर है की दलित आन्दोलन को कांग्रेस ने सपोर्ट किया था और इसको लेकर राहुल गाँधी ने एक ट्वीट भी किया था जो काफी वायरल हुआ था| इसके बाद आज देश में शान्ति के लिए उन्होंने समेत सभी कांग्रेसजनों ने उपवास रखा था|

Previous articleये टीम जीतने वाली का आज का मैच !
Next articleपिता का निधन होने की वजह चेन्नई सुपर किंग्स का यह फॉरेन खिलाड़ी भी हुआ टीम से बहार !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here